Entertainment

दुनिया की पहली ऐसी जगह India मे, जहा लोग बिना कपड़ों के रहते थे

दुनिया

First Nudist Colony in The World

India मे एक ऐसी कॉलोनी थी जहाँ लोग बिना कपड़ों के रहते थे। इस कॉलोनी को न्यूडिस्ट कॉलोनी कहते थे। ये दुनिया की पहली न्यूडिस्ट कॉलोनी थी। यह 125 साल पुरानी बात है।

1891 में, दुनिया की पहली न्यूडिस्ट कॉलोनी की स्थापना India में की गई। इस कॉलोनी को the fellowship of the naked trust के नाम से जाना जाता था। इसके founder चार्ल्स गॉर्डन क्रॉफर्ड थे। चार्ल्स British India में डिस्ट्रिक्ट एवं सेशन जज थे। इस कॉलोनी की स्थापना मुम्बई के निकट ठाणे के पास की गई थी।




गे गुरु’ कहे जाने वाले एडवर्ड कारपेंटर विक्टोरिया कालीन England में कवि थे। उनकी रविंद्र नाथ टैगोर से अच्छी मित्रता थी। the fellowship of naked trust का जिक्र चार्ल्स ने एडवर्ड को लिखे लेटर में किया था। यह न्यूडिस्ट क्लब बहुत छोटा था। इसके तीन मेंबर थे। जिनमें चार्ल्स, एंड्रयू और केलॉग कॉलरवुड थे।

चार्ल्स एक विधुर थे जबकि एंड्रयू और कॉलरवुड एक मिशनरी के बेटे थे। बाद में एक महिला ने भी इस क्लब में सदस्यता लेनी चाही लेकिन उसे कभी सदस्यता नही दी गयी। बाद में इस कॉलोनी को बंद कर दिया गया। चार्ल्स ने लिखा है कि उन्होंने दो दिन का हॉलिडे बिना कपड़ों के मनाया था। जिसमे लोग सुबह से शाम तक लोग बिना कपड़ों के रहते थे। उनके अनुसार उन्होंने किसी न्यूडिस्ट कॉलोनी की स्थापना नही की। बाद में चार्ल्स ने एथल नाम की लेडी से शादी की और रत्नागिरी चले गए।

Agar aapke pass bhi koi jaankari hai aur use aap hamare saath share karna chahte hai . To share your story me jaakar hume bataye. Agar hume aapka post acha laga to hum aapse contact karenge aur us post ko publish karenge. Aap hume talkfromheart13@gmail.com par bhi mail kar sakte hai. Kisi Bhi Tarah Ke Advertisement ke liye aap hume mail kar sakte hai.

 

About the author

Talk From Heart

In TFH, You can see Hindi News, Blogging Tips, SEO Tips, Internet se paise kaise kamaye hindi me, Affiliate Marketing se paise kaise kamaye hindi me, Travel, Tourist Places, Movie Reviews, Product Reviews, Job, Education, Business Ideas, Career Tips, Entertainment, Quotes. Always Support to Newbie Bloggers.

Leave a Comment

error: Content is protected !!